शुक्रवार, 9 अगस्त 2013

तीज पर एक गीत

चूड़ी-बिन्दी , बिछुए-पायल 
सोलह सिँगार हैं पिय के नाम 

रच गई मेहन्दी और महावर
जन्म जन्म को पिय के नाम 

१. जब से पिया तुम आये जीवन में, 
पहली तीज मुझे भूले न 
बाबुल से मिलने की ख़ुशी और 
बिरहन के मन की वो कसक 
हिरणी सा मन भटकता फिरता ,
ले कर तेरा तेरा नाम 

रच गई मेहन्दी और महावर
जन्म जन्म को पिय के नाम 

२. सावन की फुहारें ले आती हैं ,
हरियाली हर ओर कहीं 
सज-धज कर हम बाट जोहते,
साँसों में है मोगरे की महक 
एक पिया है लाखों में अपना ,
शान बान सब उसके नाम 

रच गई मेहन्दी और महावर
जन्म जन्म को पिय के नाम 

३. बिन्दिया चमके , चूड़ी खनके ,
कँगना बोले , अँगना डोले 
मेघों की घटाएँ ,  जुल्फों की अदाएँ ,
अल्हड़ सी लट है भौचक 
थाप हिया की बोले हर दम, 
ये मौसम है उसके नाम 

रच गई मेहन्दी और महावर
जन्म जन्म को पिय के नाम 

चूड़ी-बिन्दी , बिछुए-पायल 
सोलह सिँगार हैं पिय के नाम 

15 टिप्‍पणियां:

  1. एक पिया है लाखों में अपना ,
    शान बान सब उसके नाम
    रच गई मेहन्दी और महावर
    जन्म जन्म को पिय के नाम,,,

    वाह !!! लाजबाब गीत ,,,

    RECENT POST : तस्वीर नही बदली

    उत्तर देंहटाएं
  2. बहुत सुंदर गीत.... तीज की शुभकामनायें

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. हिंदी ब्लॉगर्स चौपाल {चर्चामंच} के शुभारंभ पर आप को आमंत्रित किया जाता है। कृपया पधारें आपके विचार मेरे लिए "अमोल" होंगें | आपके नकारत्मक व सकारत्मक विचारों का स्वागत किया जायेगा |

      हटाएं
  3. आपकी यह रचना आज शनिवार (10-08-2013) को ब्लॉग प्रसारण पर लिंक की गई है कृपया पधारें.

    उत्तर देंहटाएं
  4. ३. बिन्दिया चमके , चूड़ी खनके ,
    कँगना बोले , अँगना डोले
    मेघों की घटाएँ , जुल्फों की अदाएँ ,
    अल्हड़ सी लट है भौचक
    थाप हिया की बोले हर दम,
    ये मौसम है उसके नाम
    Bahut sundar!

    उत्तर देंहटाएं
  5. अहा !! कितना सुन्दर...
    मन मयूरा नाच उठा

    उत्तर देंहटाएं
  6. पहली तीज कभी नहीं भूलती !

    सुंदर प्रस्तुति !

    उत्तर देंहटाएं
  7. उत्तर
    1. हिंदी ब्लॉगर्स चौपाल {चर्चामंच} के शुभारंभ पर आप को आमंत्रित किया जाता है। कृपया पधारें आपके विचार मेरे लिए "अमोल" होंगें | आपके नकारत्मक व सकारत्मक विचारों का स्वागत किया जायेगा |

      हटाएं
  8. तीज पर इतनी सुन्दर कविता पढवाई आप ने,बहुत आनंद आया ...आभार!

    उत्तर देंहटाएं
  9. हिंदी ब्लॉगर्स चौपाल {चर्चामंच} के शुभारंभ पर आप को आमंत्रित किया जाता है। कृपया पधारें आपके विचार मेरे लिए "अमोल" होंगें | आपके नकारत्मक व सकारत्मक विचारों का स्वागत किया जायेगा |

    उत्तर देंहटाएं
  10. आपकी लिखी रचना "पांच लिंकों का आनन्द में" शनिवार 8 अगस्त 2015 को लिंक की जाएगी ....
    http://halchalwith5links.blogspot.in
    पर आप भी आइएगा ....धन्यवाद!

    उत्तर देंहटाएं

मैं भी औरों की तरह , खुशफहमियों का हूँ स्वागत करती
मेरे क़दमों में भी , यही तो हैं हौसलों का दम भरतीं